12 राशियों के लिए कैसा रहेगा नया साल 2020


वर्ष 2020 का आगमन होने जा रहा है, यह नया साल जीवन में सभी सुख-सुविधाएँ लेकर आयें यही कामना हर व्यक्ति करता है। इस वर्ष नए साल की शुरुआत कन्या लग्न और कुंभ राशि में हो रही है। वर्ष कुंडली में लग्न स्वामी बुध राशि स्वामी शनि के साथ केंद्र में विराजमान है और इसी के साथ सूर्य, गुरु और केतु भी यही उपस्थित है। इन ग्रहों की युति से पंचग्रही योग बन रहा है। इस वर्ष 24 जनवरी से कुंभ राशि पर शनि की साढ़ेसाती का पहला चरण शुरू होगा। वर्ष 2020 में शनि की ढैया मिथुन, तुला राशि पर लगेगी। 

आइये जानते है 12 विभिन्न राशियों के लिए वर्ष नया साल कैसा रहने वाला है, कौनसी राशियाँ मालामाल होने वाली है, कौनसी राशियों के लोगों के जीवन में उतार-चढाव आनेवाले है।

मेष राशि

मेष राशि के जातकों के लिए नया साल शुभ संकेत लेकर आया है। धन की स्थिति इस वर्ष अच्छी रहनेवाली है। साल से शुरुआत में स्वास्थ्य से सम्बंधित कुछ दिक्कते आयेंगी परन्तु धीरे धीरे स्थिति नियंत्रण में रहेगी। इस वर्ष राहू आपके पराक्रम भाव में 9 महीनों तक रहने वाले है जिसके फलस्वरूप आपके अंदर साहस और पराक्रम बना रहेगा। इस वर्ष विदेश यात्राएं होनी संभव है, काफ़ी समय से रुके हुए काम इस वर्ष पूर्ण होंगे। इस वर्ष रियल इस्टेट में लाभ बना हुआ है। वर्ष 2020 में मेष राशि के जातकों को शनि से डरने की या शनि के अशुभ प्रभाव से डरने की आवश्यकता नहीं है क्योंकि आपके ऊपर शनि की साढ़ेसाती और ढैय्या का प्रभाव नहीं रहेगा। पारिवारिक कलह देखने को मिलेंगे परन्तु वो कुछ सीमित समय के लिए ही होंगे। कुल मिलकर नया साल मेष राशि के जातकों के लिए अनुकूल रहेगा।

वृषभ राशि

इस वर्ष कार्यक्षेत्र में आपको अच्छा लाभ होने के संकेत मिल रहे है। आपकी राशि के स्वामी शुक्र आपकी राशि के भाग्य स्थान में विराजमान रहेंगे, जिसके कारण आपकी आर्थिक उन्नति होगी। इस वर्ष के शुरुआत में ही गुरु अष्टम भाव में विराजमान होने के कारण आपको स्वास्थ्य से सम्बंधित दिक्कते होंगी। इस वर्ष पेट से जुड़ी बीमारियाँ आपको परेशान कर सकती है, अपना ध्यान रखे। इस वर्ष दाम्पत्य जीवन में थोडा उतार-चढाव देखने को मिल सकता है। व्यवसाय में सफलता मिलेगी। नव विवाहित जोड़ों के लिए समय उत्तम है। शनि आपके 12 वें भाव में विराजमान होने के कारण थोड़े नकारात्मक प्रभाव देखने को मिलेंगे। वर्ष 2020 में वृषभ राशि के जातकों को शनि के अशुभ प्रभाव से डरने की आवश्यकता नहीं है क्योंकि आपके ऊपर शनि की साढ़ेसाती और ढैय्या का प्रभाव नहीं रहेगा।

अभी अभिमंत्रित लहसुनिया आर्डर करें  

मिथुन राशि

वर्ष 2020 में शनि आपके अष्टम भाव में गोचर करेंगे। अष्टम भाव को मृत्यु का भाव भी कहा जाता है। शनि के इस राशि में आने से मिथुन राशि के जातकों पर अष्टम की ढैय्या की शुरुआत हो जायेगी, जिसके कारण आपके कामों में रूकावटे आयेंगी। वाणी पर कंट्रोल नहीं रहेगा, वाणी में कडवाहट दिखाई देगी। कामकाज में मेहनत का फल मिलने में बहुत कठिनाइयों का सामना करना पड़ेगा। किसी से भी सोच-समझकर और संयम से व्यवहार करें अन्यथा आपके अंदर क्रोध बढेगा और आप अपना ही नुकसान करते चले जायेंगे। इस वर्ष चंद्रमा आपकी राशि में भाग्य स्थान पर रहेंगे जिसके कारण आप अच्छी उन्नति करेंगे लेकिन रुकावटें भी आती रहेंगी। शत्रु आपको परेशान कर सकते है।

कर्क राशि

कर्क राशि के लोगों के लिए नया साल मिला जुला रहने वाला है, कर्म के अनुसार फल मिलेंगे। जितनी मेहनत करोगे उतना ही फल पावोगे। वर्ष की शुरुआत में चंद्रमा आपके अष्टम भाव में रहेगा इसलिए अपनी सेहत का ध्यान जरुर रखे, स्वास्थ्य खराब हो सकता है। इस वर्ष आप कई तरह की प्रतिस्पर्धाओं में शामिल हो सकते है। इस वर्ष आपको अचानक धन प्राप्ति के योग बन रहे है, दाम्पत्य जीवन मिला जुला रहने वाला है। प्रेमी जोड़ों के लिए नया साल अच्छा है। वर्ष 2020 में कर्क राशि के जातकों को शनि के अशुभ प्रभाव से डरने की आवश्यकता नहीं है क्योंकि आपके ऊपर शनि की साढ़ेसाती और ढैय्या का प्रभाव दूर-दूर तक दिखाई नहीं दे रहा।

सिंह राशि

यह वर्ष आपके लिए काफ़ी उन्नतिशील रहने वाला है, इस वर्ष मान-सम्मान की प्राप्ति होगी। करियर की बात करें तो यह वर्ष सुकुनभरा रहने वाला है। दाम्पत्य जीवन का सुख आपको मिलने वाला है। सप्तम भाव में चन्द्रमा आपको जीवनसाथी के साथ संबंधों में मधुरता बनाये रकहने में मदद करेगा। प्रेमी युगल अपने प्रेमी के साथ शादी के बंधन में बंध सकते है। सिंह राशि के अविवाहित जातकों के शादी के योग बन रहे है। स्वास्थ्य में छोटी-मोटी दिक्कते आ सकती है, घबराने की जरूरत नहीं है। छात्रों को मेहनत की आवश्यकता है। वर्ष 2020 में सिंह राशि के जातकों को शनि के अशुभ प्रभाव से डरने की आवश्यकता नहीं है क्योंकि आपके ऊपर शनि की साढ़ेसाती और ढैय्या का प्रभाव नहीं रहेगा।

कन्या राशि 

यह नया साल 2020 आपके लिए शुभ रहने वाला है, इस वर्ष आपकी मनोकामनाएं पूर्ण होंगी। मान सम्मान के साथ साथ अच्छा धन लाभ होने के संकेत मिल रहे है। कोई भी बड़ा फैसला लेने से पहले घर के बड़े लोगों की राय अवश्य ले। धन का सदुपयोग करें। नौकरी पेशा लोगों के लिए साल 2020 अच्छा व्यतीत होगा, बेरोजगार जातकों को नौकरी मिलने के योग बने हुए है। दाम्पत्य जीवन अच्छा रहने वाला है। इस वर्ष भाग्य का साथ मिलेगा। विदेश यात्राएं होंगी। वर्ष 2020 में कन्या राशि के जातकों को शनि के अशुभ प्रभाव से डरने की आवश्यकता नहीं है, क्योंकि आपके ऊपर शनि की साढ़ेसाती और ढैय्या का प्रभाव नहीं रहेगा।

अभी अभिमंत्रित ग्रह शांति माला आर्डर करें  

तुला राशि 

इस वर्ष 2020 में तुला राशि पर शनि की साढ़ेसाती नहीं रहेगी परन्तु शनि तुला राशि के चतुर्थ भाव में गोचर करेंगे। शनि के तुला राशि में आने से इस राशि के जातकों पर चतुर्थ भाव की ढैय्या शुरु हो जायेगी, जिसके कारण इस राशि के जातकों को शत्रु परेशान कर सकते है। स्वास्थ्य खराबी का सामना करना पड़ेगा या कोई पुरानी बीमारी आपको परेशान कर सकती है। नौकरीपेशा लोगों की मेहनत में इजाफ़ा होगा, थकावट महसूस होगी। इस वर्ष आपके पारिवारिक सुख में वृद्धि के संकेत मिल रहे है। वर्ष के शुरुआत में राहू के प्रभाव के कारण कामकाज में दिक्कते आने के संकेत मिल रहे है। परिवार के लोगों का भरपूर सहयोग मिलेगा। मेहनत कायम रखें सफलता मिलेगी। स्वास्थ्य में उतार-चढाव देखने को मिलेगा।

वृश्चिक राशि 

वृश्चिक राशि के जातकों के लिए नया साल कुछ परेशानिया लेकर आ रहा है परन्तु यह कुछ समय के लिए ही होंगी उसके बाद हालात सामान्य हो जायेंगे। कामकाज में धन से सम्बंधित दिक्कते आने के संकेत मिल रहे है। आपके दाम्पत्य जीवन में सुख देखने को मिलेगा इस वर्ष मंगल की शुभ दृष्टि रहेगी जिसके कारण वाहन सुख मिलने के योग बने हुए है। स्वास्थ्य ठीक रहेगा, खान-पान का ध्यान रखना। इस वर्ष आप कामकाज में तरक्की करेंगे। आपके अंदर साहस और आत्मविश्वास जागृत होगा। कई सुनहरे अवसर मिलेंगे जिसका सदुपयोग आपको करना है। वर्ष 2020 में वृश्चिक राशि के जातकों को शनि के अशुभ प्रभाव से डरने की आवश्यकता नहीं है, क्योंकि आपके ऊपर शनि की साढ़ेसाती और ढैय्या का प्रभाव नहीं रहेगा।

धनु राशि 

धनु राशि पर शनि की साढ़ेसाती का प्रभाव पहले से ही है। वर्ष 2020 में शनि धनु राशि के द्वितीय भाव में राशि परिवर्तन करेंगे, इसे धनभाव कहते है, इसलिए इनको कामकाज में लाभ होगा। इस वर्ष 2020 में स्वास्थ्य खराबी के हालात कई बार देखने को मिलेंगे और आपका धन भी इलाज पर खर्च होगा। इस वर्ष माता के स्वास्थ्य का ध्यान रखे अन्यथा परेशानी उत्पन्न होगी। नया घर या भूमी से सम्बंधित कामों में रूकावटे आने के संकेत मिल रहे है। कोई भी काम जल्दबाजी में न करें।

मकर राशि

मकर राशि पर शनि की साढ़ेसाती का प्रभाव पहले से ही है। वर्ष 2020 मे शनि का गोचर इसी राशि में हो रहा है। मकर राशि के जातकों के लिए शनि की साढ़ेसाती का दूसरा चरण शुरू होगा, जिसके अनुसार इन राशि के लोगों की अपने भाई-बहनों से मित्रों से अनबन होगी। वैवाहिक जीवन में कलह बढ़ेंगे। पारिवारिक और गृहस्थ जीवन में उथल-पुथल देखने को मिलेगी। कामकाज में भी जरुरत से ज्यादा परिश्रम करने पड़ेंगे।

कुंभ राशि

वर्ष 2020 में शनि न्याय के देवता आपकी राशि से बारहवें घर में गोचर करेंगे जिसके अनुसार कुंभ राशि वालों पर शनि की साढ़ेसाती का पहला चरण शुरू होगा, जिसके कारण खर्चे की अधिकता रहेगी और आपकी आर्थिक स्थिति डगमगा सकती है। शत्रुओं से सावधान रहे, वो आपको परेशान करने के लिए किसी भी हद तक जा सकते है। नौकरीपेशा लोगों को नौकरी से सम्बंधित दिक्कते आ सकती है। मन पर काबू रखे, किसी भी कार्य को जल्दबाजी में न करें और अपने गुस्से पर नियंत्रण रखें।

मीन राशि

यह वर्ष आपके लिए बेहतर रहने वाला है। वर्ष 2020 में मीन राशि के जातकों को शनि के अशुभ प्रभाव से डरने की आवश्यकता नहीं है, क्योंकि आपके ऊपर शनि की साढ़ेसाती और ढैय्या का प्रभाव नहीं रहेगा। संतान सुख मिलनेवाला है। वाहन आदि चलते समय सावधानी बरतें। अपनी वाणी पर नियंत्रण रखना अनिवार्य है अन्यथा आप किसी मुसीबत में फंस सकते है। शिक्षा के लिए यह साल बेहतरीन है। विवाह आदि के लिए यह वर्ष शुभ रहने वाला है। यात्राएं होंगी पर सावधानी बरतें, किसी दुर्घटना के संकेत मिल रहे है। आपको मेहनत के अनुसार फल मिलनेवाला है।

संबंधित अधिक जानकारी और दैनिक राशिफल पढने के लिए आप हमारे फेसबुक पेज को Like और Follow करें : Astrologer on Facebook

अभी अभिमंत्रित लहसुनिया आर्डर करें  



Source link

Reply